क्या सचमुच मर्द को दर्द होगा? | “स्त्री” ट्रेलर रिव्यु

क्या सचमुच मर्द को दर्द होगा? ये डायलाग है आने वाली फिल्म स्त्री का जिसका निर्देशन किया है अमर कौशिक ने और फिल्म के मुख्य किरदारों में नज़र आएंगे राजकुमार राओ, श्रद्धा कपूर, पंकज त्रिपाठी और विजय राज़ | ७० और ८० के दशक में भारत में एक से एक बी ग्रेड की हॉरर फिल्में बनी जो एक खास वर्ग के दर्शकों को बहुत पसंद आती थी | रामसे ब्रदर्स ने जाने कितनी ही इस तरह की हॉरर फिल्में बना डाली जो लोगों ने खूब पसंद की लेकिन हॉरर फिल्में चाहे ६० के दशक की हो ७० की या फिर आज की… किसी भी हॉरर फिल्म में कॉमेडी का तड़का देखने को नहीं मिलता था हाँ ये ज़रूर था की एक दो कॉमेडियन को फिल्म में रख लिया गया हो और बीच बीच में कॉमेडी सीन्स घुसा दिए गए हों लेकिन पूरी तरह से कॉमेडी हॉरर फिल्म देखने को नहीं मिला है | इसकी वजह शायद ये भी हो सकती है की हॉरर  फिल्मों में अगर कॉमेडी डाली गयी तो वो जो डर का माहौल फिल्म में धीरे धीरे बन रहा होता है वो कहीं गुम न हो जाये |

फिल्म स्त्री के ट्रेलर को देखकर लगता है की ये अपने आप में एक नए तरह का एक्सपेरिमेंट है की एक डरावनी फिल्म में बेहतरीन तरीके से कॉमेडी का मिक्सउप किया गया है | इस शानदार ट्रेलर को देखते हुए लगता है की ये फिल्म अपने आप में एक अलग किस्म की फिल्म होगी हालांकि फिल्म मेकर्स के लिए ये किसी रिस्क से काम नहीं है की एक २ घंटे की फिल्म में खौफ्फ़ और गुदगुदी के बैलेंस को बनाये रखें | ट्रेलर में जब जब हॉरर सीन आता है तो वो रोंगटे खड़े कर देने वाला होता है लेकिन जब जब कॉमेडी सीन आता है तो वो डर उस वक़्त के लिए एकदम ख़त्म हो जाता है | अगर पूरी फिल्म में इस बैलेंस को बनाके रखा गया होगा तो इसमें कोई शक नहीं है की ये एक बेहतरीन फिल्म होगी |

 

राजकुमार राओ अलग अलग किस्म की भूमिका करके खुद को एक एक्टर के रूप में स्थापित कर चुके हैं , स्त्री के साथ साथ आने वाली फिल्म फन्ने खान में भी वो हास्य भूमिका में नज़र आने वाले हैं  | फिल्म अभिनेत्री श्रद्धा कपूर के लिए भी ये एक अलग किस्म का किरदार होगा जो उन्होंने इससे पहले कभी नहीं किया है ,उन्हें फिल्म में रोमांस के अलावा डराने का भी मौका मिला है | ट्रेलर की शुरुवात होती है पंकज त्रिपाठी के वौइस् ओवर से जो की ट्रेलर में भूतनी के बारे में बताके डर का माहौल बनाते हैं इसके तुरंत बाद जब स्क्रीन पर वो नज़र आते हैं तब उनके संवाद बोलने के तरीके से इस बात का एहसास हो जाता है की ये सिर्फ एक डरावनी फिल्म नहीं बल्कि इस फिल्म में कॉमेडी के रूप में पंकज त्रिपाठी का एक और रंग देखने को मिलेगा | आज के वक़्त में बॉलीवुड के बेहतरीन कलाकारों में से एक पंकज त्रिपाठी का किसी भी फिल्म में होना भर फिल्म को देखने की उत्सुकता को जगा देता है उनका फिल्म में रोले छोटा हो या बड़ा लेकिन दुमदार ज़रूर होता है |  फिल्म में सचिन जिगर का म्यूजिक है और ट्रेलर में मीका की आवाज़ में एक गाना सुना जा सकता है | ये एक हॉरर  फिल्म है जिसमे बैकग्राउंड म्यूजिक का बड़ा योगदान होता है तो यहाँ देखने वाली बात होगी की फिल्म में किस तरह से इसका उपयोग किया गया है और ये एक सीन को  और ज्यादा खौफनाक बनाने में कितना योगदान देता है फिलहाल ट्रेलर में सुनाई दे रहा बैकग्राउंड म्यूजिक तो प्रभावित करता दिख रहा है | फिल्म को मध्यप्रदेश के चंदेरी के अलावा भोपाल में भी शूट किया गया है

इंतज़ार कीजिये इस स्त्री का जो आपके नजदीकी सिनेमा में दस्तक देगी ३१ अगस्त  २०१८ को |

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *